Category Archives: News

नाबार्ड चेयरमैन डॉ. जी. आर. चिंतला द्वारा केविके, पाली का निरीक्षण

कृषि विज्ञान केंद्र, काजरी पाली पर आज दिनांक 29 सितंबर, 2021 को नाबार्ड के चेयरमैन डॉ. जी. आर. चिंतला, नैबकिसान की जी. एम. श्रीमती सुशीला चिंतला, राजस्थान नाबार्ड के सी. जी. एम. श्री जे. श्रीवास्तव तथा पाली जिला कलेक्टर श्री अंशदीप ने भ्रमण किया। डॉ. धीरज सिंह, अध्यक्ष, केविके, पाली ने केंद्र पर चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में उन्हें विस्तार से बताया। इस अवसर पर डॉ. चिंतला ने कृषि विज्ञान केंद्र पर पाली की पहचान खारचिया गेहूँ, मेहँदी, काला तिल तथा स्थानीय उत्पाद प्रदर्शनी को देखा तथा विस्तृत वार्तालाप किया। इस अवसर पर उन्होनें कहा कि नाबार्ड कृषि विज्ञान केंद्र की हर संभव मदद करेगा तथा किसानों के लिए स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षण करेगा। उन्होनें केंद्र पर बनाए गए कम लागत के पॉलीहाउस का उद्घाटन किया तथा कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा किसानों के लिए करे जा रहे विभिन्न प्रयासों की सराहना की। जिला कलेक्टर ने कहा कि केंद्र पर लगी विभिन्न इकाईयां नेपिएर घास, गिनी घास, अंजीर, बेर, नींबू, आंवला, अमरूद, जल संरक्षण, बूंद-बूंद सिंचाई प्रणाली किसानों के लिए काफी फायदेमंद होगी। किसानों को केंद्र पर भ्रमण कर उन्नत तकनीक का लाभ उठाना चाहिए। इस अवसर पर श्री श्रीवास्तव ने पाली कृषि विज्ञान केंद्र की किसानों हेतु की जानी वाली नई पहल तथा विभिन्न योजनाओं की बहुत प्रशंसा की तथा इस केंद्र द्वारा खारचिया गेहूँ को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने हेतु की गई मुहीम की सराहना की। श्रीमती सुशीला चिंतला ने छात्रों तथा महिलाओं को स्वरोजगार के लिए आगे आने की सलाह दी । इस अवसर पर डॉ. चिंतला ने विभिन्न कृषि कॉलेज से आए हुए छात्रों से बात कर उनका प्रोत्साहन किया व केविके के उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

Today on 29th September, 2021 Chairman of NABARD Dr. G. R. Chintala, NABKISAN’s G. M. Smt. Sushila Chintala, C. G.M. of Rajasthan NABARD. M. Shri J. Shrivastava and Pali District Collector Shri Anshdeep visited Krishi Vigyan Kendra, CAZRI, Pali. Dr. Dheeraj Singh, Head, KVK, Pali briefed him in detail about the various activities being carried out at the centre. On this occasion, Dr. Chintala saw the Kharchia Wheat, Mehandi, Black Til and local product exhibition at Krishi Vigyan Kendra and had a detailed conversation. On this occasion, he said that NABARD will extend all possible help to Krishi Vigyan Kendra and will conduct self-employment training for the farmers. He inaugurated the low cost polyhouse constructed at the center and appreciated the various efforts being made by Krishi Vigyan Kendra for the farmers. The District Collector said that various units installed at the center such as Napier grass, Guinea grass, fig, plum, lemon, gooseberry, guava, water conservation, drip irrigation system would be very beneficial for the farmers. Farmers should visit the center and take advantage of the advanced technology. On this occasion, Shri Srivastava highly praised the new initiatives and various schemes of Pali Krishi Vigyan Kendra for the farmers and appreciated the initiative taken by this center to make Kharchia wheat recognized globally. Smt. Sushila Chintala advised the students and women to come forward for self-employment. On this occasion, Dr. Chintala spoke to the students coming from various agricultural colleges and encouraged them and wished all the best for the bright future of KVK.

View more photos →

डॉ. एस. के. चौधरी, उपमहानिदेशक (एन. आर. एम.), भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद का केवीके, पाली भ्रमण

खारे पानी एवं मृदा प्रभावित क्षेत्र हेतु किसान विकसित तकनीकों एवं किस्मों को अपनाएं: ड़ाॅ एस. के. चौधरी

काजरी, क्षेत्रीय अनुसंधान केन्द्र, एवं कृषि विज्ञान केन्द्र, पाली का भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के उपमहानिदेशक (प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन) ड़ाॅ एस. के. चौधरी ने 7 फरवरी, 2021 को निरीक्षण किया तथा सभी कर्मचारियों को संबोधित किया। इस अवसर पर काजरी के निदेशक ड़ाॅ ओम प्रकाश यादव, काजरी, जोधपुर के सभी विभागाध्यक्ष एवं सभी वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे। उपमहानिदेशक ड़ाॅ चौधरी ने इस अवसर पर क्षेत्रीय अनुसंधान केन्द्र, पाली में किए जा रहे फसलों पर अनुसंधान तथा कृषि विज्ञान केन्द्र, पाली द्वारा की जाने वाली विभिन्न प्रसार गतिविधियों का जायजा लिया। चूंकि ड़ाॅ चौधरी का लवणीय पानी एवं मृदा पर शोध का लम्बा अनुभव रहा है, इसलिए उन्होेनेे क्षेत्र के वैज्ञानिकोें को अनुसंधान हेतू सुझाव एवं मार्गदर्शन दिया। क्षेत्र के वैज्ञानिकोें द्वारा खारे पानी हेतु विकसित तकनीक एवं किस्मों का जायजा लेते हुए ड़ाॅ चौधरी ने बताया कि लवणीय पानी एवं मृदा की समस्या दिनोंदिन बढ़ती जा रही है, अतः भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, क्षेत्रीय अनुसंधान केन्द्र, पाली के इस अनुसंधान को प्राथमिकता देगा तथा इस क्षेत्र में गहन अनुसंधान हेतु अधिक संसाधन उपलब्ध करवायेगा। उन्होनें कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा प्रदर्शन हेतु उगाई जाने वाली गेंहू की नवीन किस्म करण वंदना, सरसों की गिरिराज तथा चने की आर.एस.जी. 974 किस्मोें की पैदावार को देखकर हर्ष जाहिर किया एवं केन्द्र द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। अपने संबोधन में ड़ाॅ चौधरी तथा ड़ाॅ ओ. पी. यादव ने पाली में कृषि हेतु क्षेत्रीय अनुसंधान केन्द्र एवं कृषि विज्ञान केन्द्र, पाली द्वारा किए जा रहे कार्यों की उपयोगिता को सराहा।
इसी दौरान ड़ाॅ एस. के. चौधरी एवं काजरी की सम्पूर्ण टीम ने कृषि विज्ञान केन्द्र, पाली द्वारा हेमावास गांव में लगाई गई प्रदर्शनी का दौरा किया तथा लगभग 50 किसानों के साथ संवाद किया। हेमावास बांध के पेटा-कास्त में सरसों, चना एवं गेंहू के प्रदर्शन लगाये गये जिनकी बढ़वार एवं स्थिति पर उपमहानिदेशक ड़ाॅ चौधरी साहब ने काफी हर्ष व्यक्त किया। इस मौके पर कृषि के उच्चतम अधिकारियों ड़ाॅ चौधरी, ड़ाॅ ओ. पी. यादव तथा ड़ाॅ ए. के. शुक्ला का राजस्थानी रीति-रिवाज एवं परम्परा अनुसार सरपंच मोहनलाल पटेल द्वारा शानदार स्वागत किया गया। पेटा-कास्त पद्धति द्वारा की जाने वाली खेती तथा संरक्षित खेती के सिद्धान्त पर आधारित खेती को देखकर उपमहानिदेषक ड़ाॅ चौधरी अभिभूत हो गये तथा राजस्थान के किसानों द्वारा विषम परिस्थितियों में की जाने वाली खेती की इस पद्धति को सराहा।
इसके उपरान्त सम्पूर्ण प्रतिनिधिमण्डल ने जवाई बांध क्षेत्र में काजरी द्वारा एस.सी.एस.पी. कार्यक्रम के अन्र्तगत जनजातिय किसानों हेतु की जाने वाली विभिन्न योजनाओं का अवलोकन किया तथा किसानों से व्यक्तिगत रूप से बातचीत कर उनका पक्ष समझा। इस सम्पूर्ण कार्यक्रम का संचालन ड़ाॅ ए. के. शुक्ला, अध्यक्ष, क्षेत्रीय अनुसंधान केन्द्र, पाली ने किया एवं ड़ाॅ धीरज सिंह, अध्यक्ष, कृषि विज्ञान केन्द्र, पाली ने धन्यवाद प्रस्ताव ज्ञापित किया।

KVK, Pali won Pandit Deen Dayal Upadhyay Krishi Vigyan Protsahan Puraskar (Zonal) 2019 for Zone-II

ICAR-CAZRI Krishi Vigyan Kendra, Pali has been conferred Pandit Deen Dayal Upadhyay Krishi Vigyan Protsahan Puraskar (Zonal) 2019 for Zone-II

ICAR-CAZRI Krishi Vigyan Kendra, Pali has been conferred Pandit Deen Dayal Upadhyay Krishi Vigyan Protsahan Puraskar (Zonal) 2019 for Zone-II on the 92nd Foundation Day and Award Ceremony of Indian Council of Agricultural Research (ICAR) on 16th July, 2020. This award is given for the outstanding contribution of KVK in the field of agriculture and related extension services at the ground level. At Zonal level a total prize money of Rs. 7.50 lakhs is given under this award besides Certificate & Citation for infrastructure development at KVK and capacity development of KVK staff.

During this live telecast ceremony Shri Narendra Singh Tomar, Hon’ble Union Minister (Agriculture and Farmers Welfare, Government of India); Shri Kailash Choudhary, Minister of State (Agriculture and Farmers Welfare, Government of India) and Dr. Trilochan Mohapatra, Secretary (DARE) and Director General (ICAR) alongwith other higher officials were present.

भाकृअनुप-काजरी कृषि विज्ञान केंद्र, पाली को 16 जुलाई, 2020 को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (भाकृअनुप) के 92 वें स्थापना दिवस और पुरस्कार समारोह में जोन -2 के लिए पंडित दीन दयाल उपाध्याय कृषि विज्ञान पुरस्कार (जोनल) 2019 से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार कृषि के क्षेत्र में केवीके के उत्कृष्ट योगदान और जमीनी स्तर पर संबंधित विस्तार सेवाओं के लिए दिया जाता है। जोनल स्तर पर इस पुरस्कार के तहत कुल 7.50 लाख रुपये केवीके में बुनियादी ढाँचे के विकास के लिए, प्रमाणपत्र और प्रशस्ति पत्र के अलावा और केवीके कर्मचारियों के क्षमता विकास के लिए दिया जाता है।

इस सीधा प्रसारण के दौरान श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, माननीय केंद्रीय मंत्री (कृषि और किसान कल्याण, भारत सरकार); श्री कैलाश चौधरी, राज्य मंत्री (कृषि और किसान कल्याण, भारत सरकार) और डॉ. त्रिलोचन महापात्र, सचिव (कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग) व महानिदेशक (भाकृअनुप) सहित अन्य उच्च अधिकारी उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा गरीब कल्याण रोजगार योजना की 20 जून, 2020 को शुरुआत

20 जून, 2020 को प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा गरीब कल्याण रोजगार योजना का लाइव लॉन्च किया गया । पीएम मोदी ने मिशन मोड में चलाए जा रहे इस अभियान के बारे में बताया कि बिहार के खगड़िया से शुरू हो रहा गरीब कल्याण रोजगार अभियान प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए शुरू किया गया अभियान है। इस योजना के तहत 6 राज्यों मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार, ओडिशा और झारखंड का चयन किया गया है क्योंकि लॉकडाउन के दौरान इन राज्यों में अधिक संख्या में प्रवासी आये हैं। इन राज्यों में सबसे ज्यादा प्रभावित 116 जिलों का चयन किया गया है जिनमें बिहार के 32, उत्तर प्रदेश के 31, मध्य प्रदेश के 24, राजस्थान के 22, ओड़िशा के 4 तथा झारखंड के 3 जिले शामिल हैं।

इस लांच का के.वि.के., पाली में लाइव टेलीकास्ट के प्रवासियों को दिखाया गया तथा उन्हें इस योजना के बारे में विस्तार से बताया गया कि कैसे वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। जहाँ इस लांच को प्रवासियों को के.वि.के., पाली पर दिखाया गया वहीं ज्यादातर प्रवासियों को प्रसारण को घर पर ही रहते हुए दूरदर्शन पर देखने के लिए भी प्रोत्साहित किया गया ।

Kisan Mela organised under Jal Shakti Abhiyan on 2nd Oct., 2019

KVK, Pali organized a Kisan Mela under Jal Shakti Abhiyan on 2nd October, 2019 at Balada village in Jaitaran block covering farmers and officials from Sojat, Jaitaran, Raipur, Pali. In total 344 participants attended the Jal Shakti Kisam Mela including 55 students and district level officers officials from DOA, ATMA, Krishi Upaj Mandi, NABARD, Horticulture, Co-operative society etc. 10 dealers exhibited different products related to agriculture, horticulture, insecticides and pesticides and agricultural implements. The programme was addressed by a number of public representatives including village Sarpanch Shri Girdhari Singh, Pradhan Shri Datar Singh, Cooperative Chairman Shri Guna Ram Sirvi, Deputy Director Shri Shankar Lal Beda, PD ATMA Shri Kailash Chand, AD Sojat, JEN Shri Ajit Singh, Village Post Master Shri Sukha Ram, Lead Bank Representative Shri Dhanraj which focussed their deliberations on conservation of water and improving of traditional water resources.

Kisan Mela organised under Jal Shakti Abhiyan on 3rd Sept., 2019

KVK, Pali organized a Kisan Mela under Jal Shakti Abhiyan on 3rd September, 2019 at Bamnera village in Sumerpur block covering farmers and officials from Sumerpur, Bali, Rani, Marwar Jn. In total 404 participants attended the Jal Shakti Kisam Mela including 40 students and district level officers officials from DOA, ATMA, Krishi Upaj Mandi, NABARD, Horticulture, Co-operative society etc. 15 dealers exhibited different products related to agriculture, horticulture, insecticides and pesticides and agricultural implements. The programme was addressed by a number of public representatives including village former Sarpanch Bal Krishan Trivedi, former sarpanch Raghunath Singh, ward panch Rema Ram, Narpat Dan, Vijay Singh, Panna Lal, Mohabbad Singh and Taj Mohammad Zila Parishad members which focussed their deliberations on conservation of water and improving of traditional water resources like nadi, talab and johad. The programme ended with an oath ceremony of conserving water and utilization of every drop efficiently.

Kisan Mela organised under Jal Shakti Abhiyan

Under the Jal Shakti Abhiyan two farmers kisan melas were organised by CAZRI KVK, Pali on 24th July, 2019 at Jaitaran block and Lototi village to make farmers aware about efficient use of water for agriculture. At Jaitaran, the programme was attended by more than 150 farmers and agriculture professionals. On this occasion the Chief Guest Mr. Dilip Choudhary, Ex-MLA, Jaitaran urged farmers to grow less water requiring crop varieties and use water conservation techniques. Guest of honour Mr. Malla Ram Sirvi, Ex-Pradhan, Jaitaran told farmers to use rainwater harvesting techniques and increase crop productivity. ON this occasion, Zila Parishad Members and Public Representatives also addressed the farmers regarding awareness on water scarcity and efficient use of water. IFFCO Chairman Mr. Rajendra Singh Kharra motivated farmers to use liquid fertilizers and avoid over use of fertilizers. Dr. Dheeraj Singh, KVK, Pali stressed on the need of drip irrigation and sprinkler irrigation for cultivation of field crops. Dr. Mahendra Choudhary, KVK, Pali told farm.

Kisan Mela at KVK, Pali on 28 March, 2019

A district level Kisan Mela was organized at Krishi Vigyan Kendra, Pali under Rashtriya Krishi Vikas Yojna (RKVY) for farmers of Pali district to showcase new technology of farm implements for farm mechanization. Dr. O.P. Yadav, Director, CAZRI, Jodhpur was the chief guest of the event. More than 750 farmers from various villages from Pali district participate in the Kisan Mela. Practical session of farm implements was organised for farmers. A farm visit was organised for farmers to different units at KVK, Pali farm i.e. azolla unit, vermicomopst unit, phalsa unit, ber unit, gunda unit, nimbu unit, date palm unit, pomegranate unit, fig unit, fodder crops, drip irrigation system, solar unit, etc. Farmers were also told about effect of Waste Decomposer on different crops at KVK and farmers’ field.

Click to see photogallery

Kishan Mela at Rajora Kalan, Pali on 3 February, 2019

A Kishan Mela ‘Tabar’ at was organized by Indeed Foundation at Rajora Kalan, Pali on 3 February, 2019. Krishi Vigyan Kendra, Pali exhibited it products and technologies. The mela was attended by inhabitants of Rajora Kalan and other surrounding villages. Various cultural programmes and quizzes for school children was also organised. Winners of quizzes were distributed prizes.

click to see Photogallery